Nageshwar singh

जय माॅ जगदम्बें
आस्था से ज्ञान
ज्ञान से धर्म
धर्म से मर्म
मर्म से कर्म
बस यही अपना पथ
माॅ पुर्ण करे सब की मनोरथ